September 16, 2021

HULCHUL INDIA 24X7

बेबाक खबर तेज असर

युवती के जींस पहनने से नाराज परिजनों ने उसको गला घोटकर उतारा मौत के घाट

उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले में भतीजी की हत्या कर शव को पुल से फेंके जाने के मामले में एक नया मोड़ सामने आया है. चाचाओं ने ही मिलकर लड़की की हत्या सिर्फ इसलिए कर दी थी क्योकि लड़की नेहा जीन्स और टॉप पहनती थी. यह बात उसके बाबा, दादी और चाचा को नागवार लगती थी. यही वजह है कि 19 जुलाई को नेहा ने व्रत रखा था और पूजा करने जीन्स और टॉप पहनकर जा रही थी.
तब उसके परिजनों ने मना किया था. लड़की ने जवाब में कहा था कि वह ऐसा करेगी. उसे कोई रोक नहीं सकता है. जिसके बाद झगड़ा इस कदर बढ़ गया की नेहा के चाचाओ ने लाठी से पीट-पीट कर हत्या कर दी और उसके बाद इलाज़ के लिए अस्पताल ले जाने के बहाने टेम्पो में लादकर घर से लगभग 16 किलोमीटर दूर छोटी गंडक नदी पर बने पटनवा पुल से फेंक दिया.लाश पुल के एंगल में फंस कर लटक गई. सुबह इसकी पुलिस ने शिनाख्त नेहा पासवान उम्र 16 के रूप में की. इस मामले में मां शकुंतला देवी ने जो तहरीर दिया है.
उसमें साफ तौर पर लिखा है कि उनकी बेटी जीन्स पहनी थी. जिस पर बाबा और चाचाओं ने उसे मिलकर लाठी डंडों लात घुसो से पीट दिया. जिससे उसकी मौत हो गयी और अस्प्ताल ले जाने के बहाने लाश पटनवा पुल से नदी में फेंक दिया. गौरतलब है की थाना महुवाडीह क्षेत्र के सवरेजी खरग ग़ांव के रहने वाले अमरनाथ पासवान लुधियाना में मजदूरी का काम करते हैं. उनकी दो बेटियां निशा, नेहा और एक बेटा विवेक घर पर रहते हैं. इनका बड़ा बेटा विशाल भी बाहर गुजरात रहता है. घर पर इनके परिवार के अलावा उसी मकान में लड़की के बाबा परमहंस दादी भगनी देवी, चाचा अरविंद, व्यास और सत्येंद्र और इनकी पत्नियां भी रहती है।