September 16, 2021

HULCHUL INDIA 24X7

बेबाक खबर तेज असर

अजय हत्याकांड के दोनों फरार मुख्य आरोपी अवैध असलो के साथ गिरफ्तार

सन्नी गर्ग

कैराना।पुलिस ने अजय हत्याकांड के दोनों फरार मुख्य आरोपियों को अवैध असलों के साथ गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है।

मिली जानकारी के अनुसार गत 16 अगस्त को प्रात करीब 9:15 बजे अजय पुत्र सुरेंद्र निवासी ग्राम भूरा की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।जिसका शव ग्राम भूरा के जंगल में टंकी के निकट पड़ा होने की सूचना कोतवाली कैराना पुलिस को मिली थी।सूचना पर तत्काल क्षेत्राधिकारी कैराना जितेंद्र सिंह एवं कोतवाली प्रभारी निरीक्षक प्रेमवीर सिंह राणा फोर्स को साथ लेकर घटनास्थल पर पहुँचकर घटना की जानकारी की गई थी।मृतक के शव का पंचायतनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया था। घटना के संबंध में मृतक के पिता सुरेंद्र पुत्र मामचंद निवासी ग्राम भूरा ने दो व्यक्तियों को नामजद कर अन्य अज्ञात के विरुद्ध कोतवाली पर तहरीर दाखिल की थी। पुलिस ने मृतक के पिता की दाखिल तहरीर के आधार पर कोतवाली कैराना पर सुसंगत धाराओं में अभियोग पंजीकृत किया था। जिसके बाद पुलिस अधीक्षक शामली सुकीर्ति माधव द्वारा घटनास्थल पर पहुंचकर मौका मुआयना कर कोतवाली कैराना पुलिस को घटना में शामिल अभियुक्तों की जानकारी कर शीघ्र गिरफ्तारी हेतु निर्देशित किया गया था।साथ ही इस कार्य हेतु सर्विलांस व एसओजी टीम को भी लगाया गया था।क्षेत्राधिकारी कैराना जितेंद्र सिंह के नेतृत्व में कोतवाली कैराना पुलिस,एसओजी व सर्विलांस टीम द्वारा घटना कार्य करने में संलिप्त हत्याभियुक्त के संबंध में महत्वपूर्ण जानकारियां एकत्रित की गई तथा कोतवाली पुलिस व अन्य टीम द्वारा हत्याभियुक्त की गिरफ्तारी हेतु लगातार दबिश दी जा रही थी।जिसमें पुलिस ने अभियुक्त रवीन को 22 अगस्त को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया ।वही फरार चल रहे दोनों मुख्य हत्या आरोपियों पर पुलिस अधीक्षक शामली द्वारा 25-25 हज़ार रुपये का इनाम घोषित किया गया था।जिनकी तलाश में पुलिस लगातार दबिश दे रही थी।पुलिस ने सूचना पर मंगलवार को दबिश देकर अजय की हत्या में शामिल 25-25 हज़ार रुपये के इनामी शुभम पुत्र नाथीराम वह सन्नी पुत्र देवेंद्र उर्फ बिंदर निवासगण ग्राम भूरा को आलाकत्ल अवैध दो तमंचे 315 बोर,चार जिंदा कारतूस 315 बोर एवं दो खोखा कारतूस 315 बोर व घटना में प्रयुक्त मोटरसाइकिल के साथ गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है।पुलिस पूछताछ में हत्यारोपी शुभम ने बताया कि उसे जानकारी मिली थी कि मृतक अजय द्वारा उसके खिलाफ मुकदमे में मदद की जा रही थी। जिस पर गुस्से में उसने अपने साथी सन्नी के साथ अपने मामा रवीन व पिता नाथीराम के सहयोग से मौका पाकर 16 अगस्त को गांव के जंगल में उसकी हत्या कर दी थी हत्या के लिए उनके द्वारा प्रयुक्त हथियार एवं घटना के लिए प्रयुक्त मोटरसाइकिल भी अभियुक्तों से बरामद की गई है।पुलिस ने गिरफ्तारी एवं बरामदगी के संबंध में कोतवाली कैराना पर आवश्यक वैधानिक कार्रवाई शुरू कर दी है। पुलिस टीम में कोतवाली प्रभारी निरीक्षक प्रेमवीर सिंह राणा,थाना प्रभारी बाबरी नेमचंद एवं एसओजी प्रभारी महेश मिश्रा मय फोर्स के शामिल रहे।