October 19, 2021

HULCHUL INDIA 24X7

बेबाक खबर तेज असर

जनपद शामली की तहसील ऊन क्षेत्र के एक गांव में भाजपा नेताओं के गांव मे घुसने पर लगी पाबंदी

राष्ट्रीय पर्व 26 जनवरी को दिल्ली में किसान आंदोलन की आड़ में हुए बवाल ने अब नया रुप ले लिया है। जिसमें गाजीपुर बॉर्डर पर आंदोलन कर रहे भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत की आंखों में आंसू आ गए थे जिसके बाद रात को ही भाकियू के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत के आह्वान पर किसानों की राजधानी सिसौली में लाखों किसान इकट्ठे हो कर आगे की रणनीति बनाई थी और मृत्यु शैया पर पड़े किसान आंदोलन फिर से पुनर जिवित हो उठा था
जिसके चलते अब पश्चिमी उत्तर प्रदेश में किसानों ने भाजपा के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है ओर जनपद शामली के गांव में भाजपा के नेताओं को गाँव मे घुसने पर पाबंदी लगाते हुए चेतावनी भरे पोस्टर चस्पा कर दिए गए हैं अगर इसके बावजूद भी गांव में कोई भी भाजपा नेता आने की गलती करता है तो गाँव वाले उसके साथ जो करेंगे उसका जिम्मेदार वह स्वयं होगा
दरअसल जनपद शामली के किसानों ने भाजपा का खुलकर विरोध करना शुरू कर दिया है जिसके चलते गांव पिण्डौरा के ग्रामीणों ने गांव में भाजपा के किसी भी नेता की एंट्री पर पूर्णतः पाबंदी लगा दी है और पश्चिम उत्तर प्रदेश का किसान एकजुट हो गया है। यह एकजुटता भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत की आंखों में आंसू आने के बाद देखने को मिली है
गाजीपुर बॉर्डर पर आंदोलन कर रहे भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत को सरकार ने प्रताड़ित कर दबाव में लेने का काम किया था। जिसके बाद राकेश टिकैत ने आत्मदाह की चेतावनी भी दे डाली थी। राकेश टिकैत की आंखों में आसूं आने के बाद पश्चिम उत्तर प्रदेश के किसानों में अच्छा खासा उबाल देंखने को मिला है जिसके चलते अब जनपद शामली का किसान बीजेपी के खिलाफ हो गया है।
और लोग भाजपा का खुलकर विरोध करते नजर आ रहे हैं अब देखना होगा कि भाजपा सरकार के नुमाइंदे किस तरह से किसानों का विरोध झेलते हुए गांव में प्रवेश करते हैं या फिर डर को भगाने वाली भाजपा सरकार खुद डर के साये में जीने को मजबूर होगी क्योंकि गाँव वालों ने पोस्टर पर साफ लिख दिया है कि जो भी भाजपा का नेता गांव में आएगा उसके साथ जो भी होगा, उसका वह स्वयं जिम्मेदार होगा

31जनवरी 2021
रिपोर्ट,
विकास कुमार हलचल इंडिया न्यूज़ नेटवर्क जनपद शामली उत्तर प्रदेश*