October 19, 2021

HULCHUL INDIA 24X7

बेबाक खबर तेज असर

जलालाबाद/शामली

शबे-ए- बरात पर इबादत कर मांगी दुआएं

जनपद शामली के कस्बा जलालाबाद में शबे बरात में कब्रिस्तान में रात भर दुआएं मांगी गई, इस रात इंसान के गुनाहो, नेक कामों के हिसाब के साथ जिंदगी-मौत के बारे में तय किया जाता है ,रात्रि में आतिशबाजी करना शोर मचाना शरीयत के खिलाफ है।

जनपद शामली के जलालाबाद कस्बे में शबे बरात की रात्रि में मुस्लिमों ने कब्रिस्तान में इबादत की शहरी खाकर अगले दिन रोजा रखा, इस रात्रि में अल्लाह के फरिश्ते इंसान की दुआ कबूल करते हैं, जलालाबाद में शबे बरात पर पूरी रात मुस्लिमों ने कब्रिस्तान में कब्रो पर इबादत की ,मुस्लिम विद्वान काजी तारीक हुसैन ने बताया यह महीना शाबान का कहलाता है, यह रमजान शरीफ से पहले आता है, रमजान शरीफ में खुदा की इबादत की जाती है, इस रात्रि में अल्लाह की खामोशी से इबादत कर उनके करीब तक पहुंचना है, इस रात अल्लाह इंसानों के पाप पुण्य वह जिंदगी और मौत का हिसाब करते हैं।

सतेन्द्र राणा
थानाभवन, शामली
9411608030