June 16, 2024

HULCHUL INDIA 24X7

बेबाक खबर तेज असर

हरियाणा में बिजली कर्मचारी खोलेंगे सरकार के खिलाफ मोर्चा

हरियाणा में बिजली कर्मचारी खोलेंगे सरकार के खिलाफ मोर्चा

हरियाणा में बिजली कर्मचारी खोलेंगे सरकार के खिलाफ मोर्चा

हरियाणा। रिपोर्ट- महावीर सिंह। विभिन्न मांगों को लेकर आल हरियाणा पावर कॉरपोरेशन वर्कर यूनियन के आवाहन पर उपमंडल अधिकारी होडल बिजली बोर्ड प्रांगण में विरोध गेट मीटिंग का आयोजन किया गया। गेट मीटिंग को संबोधित करते हुए बिजली यूनियन प्रधान नरेंद्र सौरोत ने बताया कि बिजली कर्मचारियों की मांग को लेकर बिजली मंत्री श्री रणजीत सिंह चौटाला के साथ यूनियन के राज्य स्तरीय नेताओं की मीटिंग हरियाणा हाउस चण्डीगढ़ में हुई थी जो कि लगभग दो घंटे तक चली बैठक में यूनियन ने अपनी मंत्री स्तर की सभी 16 मांगों पर विस्तार से बात रखी। जिसमें बिजली विभाग को बचाने, कर्मचारियों व जनता से जुडी अति गंभीर मांगें मंत्री व मैनेजमेंट के सामने रखी। यूनियन ने कच्चे कर्मचारियों को कौशल रोजगार निगम से बाहर रखने, ई एस आई सेवा से बाहर होने पर उसके परिवार को स्वास्थ्य सुविधा देने, वेतन भत्ते पक्के कर्मचारियों के समान देने, एक्सग्रेसिया लाभ देने, पहले 5 वर्ष व अंतिम 6 वर्ष की शर्त को हटाने, बिजली दुर्घटनाओं को शुन्य पर लाने,वर्क लोड के अनुसार कम से कम 70000 नियमित कर्मचारियों की भर्ती करने, ट्रांसफार्मर रिपेयर सहित सभी कार्य स्वयं विभाग द्वारा करने, एन पी एस में रिटायर होने वाले कर्मचारियों को मेडिकल सुविधा देने, निम्न पदों पर कार्यरत उच्च योग्यता वाले कर्मचारियों की एकमुश्त प्रमोशन करने, एक शिफ्ट में कम से कम दो कर्मचारियों की ड्यूटी सुनिश्चित करने, ट्रांसफर पॉलिसी को रद्द करने, महिला कर्मचारियों के लिए रैस्टरुम, क्रैच व सौचालय की अलग से व्यवस्था करने आदि मांगों को जोरदार तरीके से माननीय मंत्री जी के सामने रखा। इनके अतिरिक्त किसानों के लंबित पड़े सभी ट्यूबवेल कनैक्शन तुरंत जारी करने, बिजली का उत्पादन विषेश कर हाइडल लगाकर पानी से सस्ती बिजली पैदा करते हुए जनता को 24 घंटे व सस्ती दरों पर बिजली देने आदि मांगों पर अपना पक्ष मजबूती से रखा।
कुछ मांगें जो निगम व मंत्री स्तर पर ही हल हो सकती थी उन पर भी कोई ठोस निर्णय नहीं लिया गया बल्कि टाल मटोल करने के लिए कमेटी बनाने व देख लेने की बात कही है। विशेष कर बिजली निगमों में दिन दोगुना रात चौगुना बढ़ रहे भ्रष्टाचार पर मंत्री व मैनेजमेंट थोड़ा सा भी गंभीर नहीं थे। बिजली मंत्री व ए सी एस के इस प्रकार के रवैए को देखते हुए वार्ता समिति ने वहीं पर मीटिंग करके निर्णय लिया कि 1अक्तुबर से पूर्व घोषित कार्यक्रमों के अनुसार बिजली मंत्री के कैंप कार्यालय सिरसा पर पड़ाव शुरू किया जायेगा।
एसीएस ए के सिंह व बिजली मंत्री के अड़ियल रवैए के विरोध में आज पूरे प्रदेश में सब यूनिट स्तर पर विरोध गेट मीटिंगें की गई

error: Content is protected !!