July 31, 2021

HULCHUL INDIA 24X7

बेबाक खबर तेज असर

जलालाबाद,, चारा काटते इंजन के पट्टे में आने से 14 वर्षीय किशोर की दर्दनाक मौत

जलालाबाद/शामली

जनपद शामली के गांव दखोडी जमालपुर में मशीन से चारा काटते समय पट्टे की चपेट में आकर किशोर की दर्दनाक मौत हो गई। किशोर परिवार में माता- पिता का इकलौता पुत्र था । किशोर की मौत पर गांव में सन्नाटा पसर गया । किशोर की असामयिक मौत पर परिवार में कोहराम मच गया । मृतक गांव के जूनियर हाई स्कूल मे पढ़ रहा था ।

जलालाबाद क्षेत्र के गांव दखोड़ी जमालपुर में 14 वर्षीय किशोर गोपाल पुत्र श्रीपाल अपनी गाय को चारा खिलाने के लिए पड़ोसी मांगे राम की इंजन संचालित चारा मशीन से चारा काट रहा था। चारा मशीन पर चारा काटते दौरान किशोर के पास अन्य कोई दूसरा नहीं था। चारा काटने दौरान किशोर का सर पट्टे की चपेट में आ गया। पट्टे की चपेट में आने पर किशोर की चीख सुन पड़ोसी दौड़े। तब तक पट्टे में सिर कुचले जाने पर किशोर को आनन-फानन में सहारनपुर अस्पताल ले जाते समय रास्ते में दम तोड़ दिया। किशोर के पिता को पड़ोसियों ने सूचना दी। सूचना पर किशोर के परिवार के लोग पहुंचे। किशोर की दर्दनाक मौत होने पर परिवार में कोहराम मच गया। किशोर की असामयिक मौत पर गांव में सन्नाटा पसर गया । बताया जाता है कि किशोर अपने मामा के यहां रविवार में गया था । गाय के चारे की व्यवस्था के लिए किशोर शाम को ही गांव वापिस आ गया । मृतक किशोर की माता परिवार के साथ भात नोतने पुरकाजी गई हुई थी ,शादी के 10 साल बाद मन्नत वप्रार्थना के बाद गोपाल का जन्म हुआ था। 5 साल बाद घर में छोटी बहन का जन्म हुआ। परिवार का इकलौता चिराग बुझने से माता पिता का रो रो कर बुरा हाल है। किशोर की असामयिक दर्दनाक मौत पर ग्रामीणों ने दुख व्यक्त किया। परिवार की आर्थिक स्थिति दयनीय हैं। 10 वर्षों से मशीन से चारा काट कर बेचने का कार्य कर रहे विनोद सैनी ने बताया की इंजन या बिजली से संचालित चारा काटने की मशीन से चारा काटते समय सावधानी की आवश्यकता होती है। अकेले चारा नहीं काटना चाहिए। पट्टे की चपेट में आने पर हादसे की संभावना रहती है। बच्चे व किशोर को चारा मशीन के आसपास अकेले नहीं छोड़ना चाहिए। बीमार व्यक्तियों को चारा मशीन से नहीं काटना चाहिए।

सतेन्द्र राणा
9411608030